मकर संक्रांति पर दान का महत्व । 14 January 2022 - Donation on Makar Sankranti

मकर संक्रांति का जीवन में महत्व
---------------------------------------------

" मकर संक्रांति " यह दो शब्द है। मकर और संक्रांति

जब सूर्य का मकर राशि में प्रवेश होता है तब सूर्य का प्रकाश
बढ़ने लगता है। उसी दिन वातावरण में परिवर्तन आता है । प्रकाश का अंधकार के उपर विजय होता है। इस हेतु उसको प्रकाश का पर्व भी कहा जाता है।

उतरायणम् - यानी उतर की और सुर्य का गमन होता है। उसको उत्तरायण भी कहा जाता है।
मकर संक्रांति के दिन - दान का बहोत महत्व है। उस दिन के साथ दान का संबंध इस दिन से संक्रांति है।

दान, यज्ञ और तप यह तीनो कर्म अनिवार्य है, और पावन करने वाले होते है। दान भारतीय संस्कृति का महत्त्वपूर्ण अंग है । भारतीय संस्कृति के तीन स्तंभ है- यज्ञ, दान, तप और उसमे दान के आधार पर यज्ञ और तप टिके हुए हैं। दान की विस्तृत व्याख्या हमारे प्राचीन ग्रंथो में देखने को मिलती है।

दान की व्याख्या:-
" दानम् नाम संविभाग "
दान का अर्थ है विभागीकरण। विभाग अर्थात समाज का भवन स्थिर रखने के लिए यह तीनो स्तंभ मजबूत होने चाहिए।
आईए बाकी जानकारी इस विडिओ के माध्यम से लेते है।

अधिक जानकारी के लिए संपर्क करें:-
+916352483012
http://www.sanskrutigurukulam.com​​​

Facebook पेज लिंक:-
https://www.facebook.com/MehulSanskruti

Instagram लिंक:-
https://www.instagram.com/sanskruti_arya_gurukulam/

हमारे यू ट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करे:
https://www.youtube.com/channel/UCbkCz02XZXlXsyO05FPvmVw?sub_confirmation=1

वक्ता:-
डॉ. मेहुलभाई आचार्य
दर्शनाचार्य, Ph.D. (आयुर्वेद तथा दर्शन शास्त्र)
संचालक: संस्कृति आर्य गुरुकुलम्‌, राजकोट

विडियो अच्छा लगे तो लाईक, कमेंट और शेर करना न भुले।
#Ayurveda​​​ #Gurukul #Bharat #Indian School #Vedic School #Sanskriti Arya Gurukulam #Alternative School #Bharatiya School #Bhakti Yoga School #Learning in India #Ved #Shashtra #Upanishad #Traditional School #Traditional Education #Bharatiya Education #Education in India #Alternative Education System #Mehul Acharya

SANSKRUTI ARYA GURUKULAM
"संस्कृति संवर्धन संस्थान" 1970 से भारतीय संस्कृति के आधारभूत ग्रंथों का संरक्षण और संवर्धन करनेवाली संस्था है। "संस्कृति आर्य गुरुकुलम्‌" वैदिक आश्रम प्रणाली के अनुसार शिक्षा प्रदान करने वाला एक गुरुकुल है।
यहां बच्चों के समग्र विकास के साथ-साथ भारतीय संस्कार, संस्कृतियों और परंपराओं को भी सिखाया जाता है। यहां लोगों के लिए आयुर्वेद, पंचगव्य, पंचकोश विकास, गर्भ संस्कार और भ्रूणविज्ञान, आदर्श माता-पिता, संस्कृत भाषा की कक्षाओं आदि के लिए कई संस्कृति संवर्धन के सेमिनार और पाठ्यक्रम करते हैं।
यहां बच्चों के अध्ययन और सभी कार्यक्रम मुफ्त या स्वैच्छिक अनुदान के साथ आयोजित किए जाते है ।
Show More
1 of 50 Next