Gau Sanskruti Online Shop

Home/Gau Sanskruti Online Shop
  • Products Key Feature(s) : WE MAKES HEALTHY CHILD FOR HEALTHY WORLD. वैदिक मंत्रोच्चार एवं बहुमूल्य औषधियुक्त । सुवर्णप्राशनम्‌ संस्कार मंत्र : ॐ भु: त्वयि दधामि ॐ भुव: त्वयि दधामि ॐ स्व: त्वयि दधामि ॐ भु: भुव: स्व: त्वयि दधामि Completely ayurvedic mantraushadhi (the medicine rasayana is made very potent and powerful by using sound energy and cosmic energy which is created by chanting vedic hymns and suktas when the medicine is being prepared), oral drops, available in user friendly and durable packing. This prashan is made as per Kashyap Samhita on auspicious Pushya Nakshatra in pure and sterilized environment while reciting Vedic hymns and Navkara Mantra.
  • Sale!

    Agnihotra Havan Samagri

    100.00 90.00
    अग्निहोत्र भारतीय संस्कृति का अभिन्न अंग है । अग्निहोत्र यानि अग्नि में विविध औषधियों के द्वारा देवताओं को आहूति प्रदान की जाती है । आहूति मंत्रपूर्वक देनी होती है, अंगुष्ठ और उँगलिओं के बीच में थोडी सी आहूति लेकर उसको प्रतिदिन सूर्योदय और सूर्यास्त के समय अग्नि में मंत्रपूर्वक आहूति देने से त्रिविधतापों से मुक्ति मिलती है । आयुर्वेद में बताई गई सुगंधित एवं विभिन्न औषधीय गुणो से युक्त औषधियाँ इस धूप में मिश्रित है । Agnihotra is an inherent part of Indian culture. Agnihotra means offering ahuti or homa to devatas with various medicinal grains and herbs. Ahuti is offered with mantra chanting. Small quantity of ahuti is taken in the pinch (between the thumb and the middle & ring finger) and offered to the fire with mantra chanting at the time of sunrise and sunset, this relieves from trividhataapa. Various fragrant and medicinal property carrying herbs are added in this dhoopa. Various inventions and researches have been done on agnihotra in other countries.
  • Weight : 50 Grams Products Key Ingredients : Alfalfa Products Key Feature(s) : Organically grown alfalfa with no preservatives
  • Weight : 500 Grams Products Key Ingredients : Alfalfa, Ashwagandha, Amla, Goghrut, Stevia Products Key Feature(s) : Goodness of alfalfa combined with other rejuvenating herbs as a sugar-free prashan, for the first time by Sanskruti Arya Gurukulam.
  • Weight : 60 Tablets Products Key Ingredients : Alfalfa (naturally grown) Products Key Feature(s) : Organically grown alfalfa with no preservatives.
  • Net Volume : 60 Tablates PROCESSED IN AMALAKI SWARAS 21 TIMES. गो मुत्र एवम गोमय खाद से निर्मित आवला मे से बनाइ गइ  आँवला आयुर्वेद के मतानुसार एक अद्भुत रसायन है । पके, ताजे एवं रसदार आँवले को लेकर उसको छाया में सुखाकर वैदिक पद्धति से चूर्ण बनाकर पुन: इसी चूर्ण को २१ बार आँवले के रस में भिगोया जाता है अर्थात्‍ आँवले के रस की भावना जाती है । ऐसा आमलकी रसायन आयुर्वेद में उत्तम रसायन एवं आयुवर्धक माना गया है । इसके सेवन से प्राणशक्ति बढ़ती है और अनेक रोगों से लडने के लिए शरीर को सक्षम बनाता है । Accordingly to Ayurveda, amla or gooseberry is a great rasayana. Ripe, fresh and juicy amla are dried in shade and then converted to churna using vedic method. This powder or churna is again soaked in amla juice 21 times, i.e. amla juice ‘bhavna’ is given to churna. This amlaki rasayan is considered the best rasayan and also for prolonging life. Its consumption improves vitality and enables the body to fight various ailments and illness.
  • Weight : 15 ml. Products Key Ingredients : Rajat Bhasm, Thuja, Panchgavya Ghrit Products Key Feature(s) : This prashan is the best aushadhi to remove those toxins from the body which become the cause of various diseases.
  • विशेष : प्राचीन भारत के ग्रंथ अगस्त्य संहिता के आधार पर बनाई गई इस चिप का टेस्ट भी विभिन्न मशीनो द्वारा किये जाने पर रेडियेशन कम होने के पुख्ता प्रमाण मिले हैं । Radiation स्वास्थ्य के लिए हानिकारक है । अभी मोबाईल एक अनिवार्य अनिष्ट बन गया है और इसका इस्तमाल करते वक्त काफी मात्रा में Radiation उत्पन्न होता है, जो हमारे शरीर को बहुत हानि पहुँचाता  है, इस रेडियेशन के दुष्प्रभाव से बचने के लिए गोमय बहुत ही लाभकारी है । प्राचीन भारत के रसायन शास्त्र के अनुसार नागार्जुन ने ताम्र (Copper) को (रेडियेशन) को रोकने में श्रेष्ठ मान है । प्राचीन भारत में रेडियेशन या विद्युत तरंग की खोज महर्षि अगस्त्य ने कि थी । उन्होंने भी ताम्रभस्म और अग्निहोत्र को Anti Radiation गुणयुक्त माना है । संस्कृति आर्य गुरुकुलम्‍ प्राच्य विद्या और अर्वाचीन विज्ञान पर वर्षों से संशोधन कार्य कर रहा है, उसमें प्राचीन भारत का विज्ञान आज के रेडियेशन पर भी कार्य कर सकता है । यह हम दावे के साथ सिद्ध कर सकते है । Radiation is harmful for health but mobile has become a necessary evil now. A lot of radiation generates while using the mobile phone which is very harmful for the body. Gomay is very beneficial to prevent the harmful effects of this radiation. According to ancient Bharat’s rasayan shastra, naagarjuna has described copper to be the best mean to shield radiation. Radiation or radio-magnetic rays were discovered by Maharishi Agastya. He has also described copper as well as agnihotra as having best anti-radiation qualities.
  • Net Volume : 30 Capsules विशेष : कैप्सूल मॆं Giletine होता है, जो शाकाहारी लोगों के लिए उपयुक्त नहीं है । हमारी संस्था की सभी कैप्सूल सम्पूर्णत: शाकाहारी है, इसलिए शाकाहारी व्यक्ति भी निर्भयता से इसका सेवन कर सकता है । अर्श को आयुर्वेद में दारुण रोग माना है । दुश्मनों की तरह यह मनुष्य को पीड़ा देता है । उसके २ प्रकार है । रक्तार्श और शुष्कार्श । इसकी चिकित्सा में आयुर्वेद ने अनेक योग एवं प्रयोग बताये है । वर्षों तक चिकित्सा पर कार्य करने के बाद अर्श को दूर करने कि लिए एवं उसकी चिकित्सा के लिए रक्तफिटकरी, सूरण भस्म, (अर्शोघ्न) शुक्ति भस्म, शुद्ध सोनागेरु, निम्बुबीज, नागकेसर, रसांजन, भल्लातक भस्म इत्यादि औषधियों का योग किया गया है । यह योग अब कैप्सूल के रुप में संस्कृति आर्य गुरुकुलम्‍ ने जनता के लिए सार्वजनिक किया गया है । इस योग से बहुत लाभ प्राप्त होते है । Piles or hemorrhoids (अर्श) is considered a serious ailment in Ayurveda. It hurts a person like an enemy. They are classified in two categories in ayurevda- Raktarsh and shushkarsh ( internal hemorrhoids and external hemorrhoids). A lot of medicines and procedures have been suggested in Ayurveda for this. After years of practicing medicine to cure piles, a lot of medicines like raktaphitkari, sooran bhasm (arshoghn), shukti bhasm, shuddha sonageru, nimbubeej, naagkesar, rasaanjan, bhallatak bhasm are combined for treatment of piles. This combination of medicines is made availale in form of capsules by Sanskruti Arya Gurukulam. It is very beneficial.