Pain Killer Drops

Home/Aushadhi/Pain Killer Drops

Pain Killer Drops

150.00

Net Volume : 15 Ml.

आयुर्वेद में शूल को मुख्यरुप से वात की व्याधि माना गया है । “न वातेन विना शूलम्‍” अर्थात वायु की विकृति के बिना शूल नहीं हो सकता । इसलिए वायु का संतुलन करने से किसी भी प्रकार का दर्द शांत हो जाता है । आयुर्वेद के प्राचीन ग्रंथों में वेदना को दूर करने के लिए विविध औषधियों का वर्णन किया गया है, जैसे रास्ना, निर्गुण्डी, हल्दी, भाँग, कलौंजी, सहिजन, गुग्गलु इत्यादि । आयुर्वेद के प्राचीन ग्रंथों में भाँग को उत्तम वेदनाहर बताया गया है । दुर्भाग्यवश भाँग पर भारत प्रतिबंध है, किन्तु सौभाग्य से भाँग के बीज को मान्यता दी गई है । “पेईन कीलर ड्रॉप्स” पूज्य गुरुजी के वर्षों के शोध-संशोधन का फल और वाराणसी में पूज्य गुरुजी के चिकित्सालय में अनेक रोगियों के उपर यह तैल प्रयोग करने पर बहुत लाभदायी सिद्ध हुआ है ।

In Ayurved, pain is said to be caused by Vaayu. “न वातेन विना शूलं”  meaning, there can not be pain unless Vaayu is malfunctioning or imbalanced.

That is why any kind of pain is eased when Vaayu is balanced. Ayurveda prescribes many medicines to cure pain, like Rasna, nirgundy, turmeric, cannabis, onion seeds, sahijan, guggulu,etc. Ancient Ayurveda texts state cannais to be the best pain-killer. Unfortunately it is banned in India but fortunately, its seds are not. “Pain killer drops” is a result of pujya Guruji’s years of research and refinement of aushadhis. Use of this tailam has proven very beneficial to a number of patients in guruji’s clinic in Varanasi.

SKU: GSASRHT2001 Category: Tag:

Description

CONTAINS  :

Kalaunji Tail: 9 ml

Rasna: 1 ml

Guggalu: 1 ml

Triphala: 1 ml

Haldi: 1 ml

Jyotishmati Tail: 1 ml

Nirgundi Tail: 1 ml

लाभ :

  • रास्ना, गुग्गलु और निर्गुण्डी वात और शोथ को दूर करके वेदना का नाश करती है ।
  • सहिजन के बीज का तैल शोथ-वेदनायुक्त विकारों में बहुत लाभदायी है ।
  • हल्दी शोथ को दूर करके रक्त के परिभ्रमण को नियमित करती है ।
  • ज्योतिष्मति तैलम्‍ सभी प्रकार के कफ-वात जनित रोगों में इसका अद्भूत लाभ पाया गया है ।
  • आर्निका एक हॉमियोपेथी की प्रसिद्ध औषधि है, जिसका प्रयोग वेदना को दूर करने के लिए होता है ।
  • यह तैल माहवारी के दर्द, मधुमेह और रक्तचाप में भी लाभदायक है ।
  • आयुर्वेद का यह श्रेष्ठ औषध है, जो चोट लगने पर उपयोग करने से त्वरित लाभ देता है ।

सेवनविधि :

सुबह-शाम ३ से ५ बूँद आधा ग्लास पानी के साथ लें ।

Products Key Feature(s) : It’s a very simple to use multipurpose medicinal oil for all diseases. Specially used for cough related ailments and gastric problems.

Shastrokt (Vedic) Importance : Nigella seeds/black seeds (Kalonji) and cumin (jeerak) are treated as exceptional medicinal herbs in Ayurveda. In Unani pathy, this is called the one medicine for all diseases except death.

Relevant Mantra with Translation and Reference (Sanskrit) :
शेचनं दीपनं वात कफ दौर्गन्ध्यनाशनम् ॥ (च० सू०)

Ayurved Vidhan  : Swanubhoot (patent medicine)

Why To consume : This medicinal oil is beneficial in all diseases, especially in kapha related problems like cough, cold and gastric problems which are caused by Vayu.

Who Can Consume : Any one above the age of 3 years

Additional information

Weight .060 kg
Dimensions 3.4 × 9 cm

Reviews

There are no reviews yet.

Be the first to review “Pain Killer Drops”

Your email address will not be published.