Ifeni

Ifeni

160.00

Net Volume : 30 Capsules

विशेष :

कैप्सूल मॆं Giletine होता है, जो शाकाहारी लोगों के लिए उपयुक्त नहीं है । हमारी संस्था की सभी कैप्सूल सम्पूर्णत: शाकाहारी है, इसलिए शाकाहारी व्यक्ति भी निर्भयता से इसका सेवन कर सकता है ।

सभी प्रकार के कफ के लिए एक सम्पूर्ण आयुर्वेदिक चिकित्सा ! सभी आयु वर्ग के लोगों को शीघ्र और स्थायी आराम दें । एक विशुद्ध आयुर्वेदिक औषधि जो फेफड़ों के सामान्य रूप से कार्य करने की क्षमता को वापस लाये और रोगी पर कोई दुष्प्रभाव न छोड़े । आयुर्वेद और प्राकृतिक चिकित्सा का दमे के रोगियों के लिए वरदान । आयुर्वेद कें विभिन्न ग्रंथों में श्वास्रोगों के लिए विभिन्न औषधियाँ बताई गई है । अग्निकुमाररस, अभ्रक भस्म, धतुर बीज आदि औषधियाँ श्वास-कास और कफ के रोगों में उपयोगी होती है । संस्कृति आर्य गुरुकुलम्‍ के चिकित्सालय में ऐसी औषधियों का मिश्रण कर्के “इफनी कैप्सूल” तैयार किया गया है, जो कफ के रोगों और श्वास के रोगों में उपयोगी पाया गया है ।

A complete Ayurvedic remedy for all kinds of cough. Provides instant and lasting relief to all age groups. A pure ayurvedic medicine which brings back the capability of lungs to function normally and doesn’t leave any side-effects on the patient. It is a boon for asthematic patients from Ayurveda and naturopathy. Various medicines have been prescribed by Ayurveda for breathing problems. Agnikumarras, abhrak bhasma, Dhatura seeds and other such medicines are very useful for breathing and cough related diseases. Sanskruti Arya Gurukulam has made Iffni Capsules combining such medicines which are considered useful for cough and breathing ailments.

Category:

Description

CONTAINS :

Shwas Kuthar Ras: 100 mg

Sameera Pannaga Ras: 100 mg

Abhrak Bhasma: 100 mg

Dhatura Seed: 100 mg

Kantkari Kshar: 50 mg

Hing Niryas: 50 mg

लाभ :

  • श्वासकुठार रस आयुर्वेद के रसतंत्रसार नामक ग्रंथ में बताया गया है । यह श्वास रोगों की अद्भुत औषधि है ।
  • कण्टकारी श्वास की उत्तम औषधि है और कास को भी ठीक करती है ।
  • वचा में उत्तम कंठ्य गुण होता है । यह कंठ सुधारता है, स्वर को ठीक करता है और कास को दूर करने में सहायता करता है ।
  • इसमें उपयुक्त अभ्रक भस्म को १००० बार पुट देकर तैयार करी जाती है, इसलिए यह सहस्त्रपुटी अभ्रक का गुण अन्य अभ्रक भस्म से हजार गुना अधिक होता है । यह सर्व रोगों का नाश करती है ।

सेवनविधि :

सुबह-दोपहर-शाम १-१ कैप्सूल पानी के साथ लें ।

१२ साल से कम आयुवाले बच्चों को आधी मात्रा में औषध दें ।

सेवनयोग्य व्यक्ति :

१ साल से अधिक आयुवाला कोई भी व्यक्ति इसका सेवन कर सकता है ।

Products Key Feature(s) : Asthametic problems, Whoopin cough, Old cough

AyurvedVidhan : Aryabhishak, Rastantra Sar

Who Can Consume : Anyone above one year of age can use it.

Who Can Not Consume : pregnancy

Additional information

Weight 0.032 kg
Dimensions 4.8 × 6.2 cm