Charma Rog Har Malham

Home/Aushadhi/Charma Rog Har Malham

Charma Rog Har Malham

80.00

Net Volume : 100 Gms.

आयुर्वेद के ग्रंथो में चर्म रोगों को दूर करने के लिए anti bacterial, anti fungal औषधियाँ  बताई गई है जैसे गंधक, पंचगव्य, कर्पुर, हल्दी इत्यादि । संस्कृति आर्य गुरुकुलम्‍ ने गंधक, टंकणक्षार, गुग्गलु, कर्पूर, गौमूत्र, शतधौत घृत जैसी चर्मरोगों को दूर करनेवाली विविध औषधियों का मिश्रण करके “चर्मरोगहर मल्हम” तैयार किया गया है । यह मल्हम गुज़रात के हमारे चिकित्सा केन्द्र में प्रयुक्त किया गया है । यह मल्हम शरीर में होनेवालें किसी भी प्रकार के त्वचागत रोगों में उपयोगी है । चर्मरोगों में ज्यादातर बाहर उपयुक्त होनेवालें आयुर्वेदिक antiseptic और anti bacterial औषधों का उपयोग किया गया है, इसलिए यह मल्हम उत्तम है ।

Ayurveda prescribes many anti bacterial and anti fungal medicines for curing skin diseases like gandhak, panchagavya, karpoor, turmeric,etc. Sanskruti Arya Gurukulam has prepared a great comination of these medicines with gomutra, shatdhaut ghrit,etc in the form of charmrog har Malham. This Malham is very effective as it uses most of the external ayurvedic medicines which are antiseptic and anti-bacterial

Category:

Description

CONTAINS :

Khadir

Haldi

Guggalu

Karpoor

Gaumutra

Gandhak

Tankan Kshar

Shatdhaut Ghrit

Jatyaadi Tailam

Neem Tailam

लाभ :

  • सभी प्रकार के चर्मरोग, खाज-खुजली पर लगाने के लिए उपयोगी है ।
  • पैर के छाले, पैर की चमडी का कटना इत्यादि में बहुत लाभदायक है ।
  • गड़गुमड, पुराने घाव, ताजा घाव, चीरा आदि में लगाने से घाव जल्दी भर जाते है ।
  • गुग्गलु, गंधक एवं टकण होने से न मिटनेवालें घाव, जैसे गेंग्रीन में भी उपयोगी है ।

सेवनविधि :

थोडा-थोडा मल्हम जख्मी स्थान पर आवश्यक्ता अनुसार लगाए ।

केवल बाह्य प्रयोग हेतु ।

Additional information

Weight 0.0132 kg
Dimensions 5.6 × 6.4 cm