Bal Raksha Malish Oil

Home/Aushadhi/Bal Raksha Malish Oil

Bal Raksha Malish Oil

150.00

Net Volume : 100 Ml.

*According to ‘शारङ्गधर संहिता’ children should be messaged with oil after birth itself.

Products Key Features : Process in Go dugdh and Aja dugdh.

गुलाब तैल युक्त

आयुर्वेद के विभिन्न ग्रंथो में बालकों के लिए मालिश का वर्णन किया गया है ।  जैसे वाहन में समय-समय पर Oiling आवश्यक है उसी प्रकार बालकों के शरीर के लिए Oiling आवश्यक है, नहीं तो बालकों का शरीर रुक्ष हो जाता है । बालकों के मालिश के लिए आयुर्वेद में विभिन्न औषधियों को सिद्ध करके क्षीरपाक विधि से बला और अश्वगंधा जैसी बहुमूल्य औषधियों युक्त इस तैल के मालिश से बच्चों को बहुत लाभ मिलता है ।

Ayurved texts have prescribed messaging for children. Just like regular oiling is needed for vehicles, regular oil messaging is needed for children else their body becomes rough (skin, muscles and bones). Various medicines have been processed using ayurvedic methods and this message oil is prepared for children using khseerpak method. Message of this oil with precious medicines like ashvagandha, balaa, provides immense benefits to children.For messaging children, processing various medicines – including balaa and ashvagandha- using ksheerpaak method is prescribed in ayurved.

SKU: GSBABRMO2001 Category:

Description

Products Key Ingredients : Til Taila, Bala Sida, Ashwagandha, Laksha, Rasna, Manjishtha, Dhruva, Chandan, Nagkesar, Rose oil, Coconut oil, Badam Tail, Coraka, Sveta Sariva, Usira, Musta, Kushta, Agaru, Haridra, Kumuda, Renuka, Satahva, Padma Kesara

लाभ :

  • इस तैल से मालिश करने से बच्चों का वर्ण निखरता है ।
  • बालको एवं बड़ों में को वायु का संचरण अच्छा होता है ।
  • पाचनक्रिया सक्रिय होती है इसलिए पूरा स्वास्थ्य बना रहता है तथा भविष्य में त्वचागत रोग नहीं होते ।
  • रोगप्रतिकारक शक्ति बढ़ने से अनेक रोगों से रक्षण मिलता है ।
  • रक्त का परिभ्रमण होने से दिनभर स्फूर्ति रहती है और मस्तिष्क की ओर रक्त का प्रवाह जाने से मस्तिष्क भी तरोताजा रहता है ।
  • शरीर को शुद्ध एवं स्वच्छ करता है इसलिए बाहर की गंदगी दूर होती है ।
  • त्वचा के छिद्रों को खोलता है इसलिए अंदर रहे Toxins आसानी से बाहर निकल जाते है ।
  • मालिश करके सूर्यस्नान करने से सूर्यस्नान का दुगना लाभ मिलता है ।
  • बला, अश्वगंधा जैसी औषधियाँ शरीर को शक्ति प्रदान करती हैं ।

सेवनविधि :

सुबह स्नान से पहले पूरे शरीर में तैल से मालिश करें ।

सेवनयोग्य व्यक्ति :

जन्म के १० दिन बाद से लेकर छोटे-बड़े कोई भी उपयोग कर सकते है ।

Who can Consume : Anyone after the age of 10 days

Usage: Message the whole body with oil before bathing in the morning.

Elders can also use the same oil for messaging

Additional information

Weight 0.110 kg
Dimensions 4.3 × 4.3 × 11.5 cm

Reviews

There are no reviews yet.

Be the first to review “Bal Raksha Malish Oil”

Your email address will not be published.

You may also like…