Admission

संस्कृति आर्य गुरुकुलम में बालको के प्रवेश हेतु कुछ आवश्यक सूचनाए

1-यह संस्था ऋषिप्रणित सम्पूर्ण भारतीय संस्कृति आधारित सम्पूर्ण पंचकोश विकास को केन्द्र में रखकर शिक्षा देने वाली संस्था है ।

2- तपोवन पद्धति एवं निसर्गरम्य वातावरण में बालक एवं बालिकाओं का सम्पूर्ण विकास होता है ।

3- यह गुरुकुल परिसर ,गुजरात राज्य के राजकोट शहर से 10 किलोमीटर की दूरी पर स्थित है ।

4- बालक- बालिकाओं का संयुक्त गुरुकुल है ।

A- बालिकाओं के लिए आदरणीय जिज्ञासा दीदी आचार्य है।

B- बालकों के लिए श्रीमान मेहुल भाई आचार्य के रूप में है।

5-किसी भी (जाति -पाती -सम्प्रदाय) के भेदभाव के बिना यह शिक्षा निःशुल्क दी जाती है ।

6- व्यवस्था का खर्च अभिवावकों से अनुदान के रूप में स्वीकार्य है।

7- बालक-बालिकाओं का प्रवेश प्रायः जून 2019 के सत्र में होने वाला है ।

8- सभी प्रान्त के बालक- बालिका जिनकी उम्र 8 साल से 12 साल तक है उन्हें ही प्रवेश मिलेगा ।

9- बालक-बालिकाओं का प्रवेश का अंतिम निर्णय गुरुकुल संस्था का होगा।

10- माता- पिता का सहमति का पत्र अनिवार्य है ।

11- माता-पिता को सँस्कृति आर्य गुरुकुलम के किसी भी प्रकल्प में जुडना अनिवार्य है, जैसे( स्वर्ण प्राशन , बाल गुरुकुलम् , लघु गुरुकुलम् इत्यादि)।

12- बच्चों को सम्पूर्ण भारतीय सँस्कृति के ज्ञान के साथ सँस्कृत, हिन्दी, आयुर्वेद , विविध कला, न्याय दर्शन इत्यादि का अध्ययन कराया जाएगा ।

13- आयुर्वेद, ज्योतिष, काव्य शास्त्र, विविध कलाएं इत्यादि का भी अध्ययन करना होता है ।

14- बालक- बालिकाओं को प्रयोगात्मक (ट्रायल) स्तर (बेस) पर रखा जाएगा 7 दिवस तक उसके बाद विद्यार्थी की योग्यता को ध्यान में रख कर प्रवेश विषयक निर्णय लिया जाएगा ।

15- अभिवावकों को हर दो महीने पर होने वाले अभिवावक मिलन में आना अनिवार्य है ।

16- बालक-बालिकाओं को अभिवावकों से फोन पर बात करने का समय सप्ताह में एक बार रहेगा ।

17- यह शिक्षा सम्पूर्ण गुरुकुल पद्धति के आधीन होने से किसी प्रकार का कोई सरकारी प्रमाण पत्र नहीं मिलेगा ।

18 – संस्था संचालित यह अभ्यास क्रम सात साल का है ।

19- अभ्यास क्रम पूर्ण होने पर संस्था द्वारा विद्यानिधी की उपाधि(डिग्री) प्रदान की जाएगी।

20- विद्यार्थियों के अभिवावकों को श्रद्धा और विश्वास होने पर उनसे संवाद करके ही प्रवेश की कार्यवाही की जाएगी ।

21- किसी भी परिस्थिति में गुरुकुल का निर्णय अंतिम रहेगा ।

Note- इन सभी बिन्दुओ पर सहमति होने पर प्रवेश लेने हेतु नीचे दिए फॉर्म को भरे।

धन्यवाद


Admission form

प्रवेश आवेदन पत्र – ” संस्कृति आर्य गुरुकुलम ” – संस्कृति – संवर्धन – संस्थानम् द्वारा संचालित

Email address *
इस पेज के ऊपर दी गयी तमाम जानकारी हमने पढ़ी और सामजी है और हम इससे सहमत है ; कृपया हमारे बालकके गुरुकुलम में दाखिला के लिए हमारा आवेदन पत्र स्वीकार करें.
क्रपिया सहमति के लिए चेक बॉक्स क्लिक करें

::::::: विद्यार्थी - प्रवेश पत्र (प्रायत: हिन्दी मे लिखे )

विद्यार्थीका पुरा नाम : {उपनाम / नाम / पिताजी का नाम ) *

विद्यार्थी की जन्म तिथि : *
जन्म समय : *
जन्म स्थान : *
घरका पता (Address) : *
माता का मोबाइल नं (१) : *
पिता का मोबाइल नं (र) : *
पिता का व्यवसाय : *
माता का व्यवसाय : *
घर की मासिक इन्कम ( रुपयो मे ) : *
विद्यार्थी नेअभी तक किये हुए अभ्यास की जानकारी : *
धार्मिक अभ्यास :
आपके मतानुसार विद्यार्थीकी बौद्धिक क्षमता : (तेजस्विता - प्रतिभा) - '' निशानी करे *
तीव्रमध्यममंद
बालकको यदी कोई मानसिक / शारीरिक समस्या हो तो संक्षिप्तमें बताए :
बालकमें रही हुई विशिष्ट शक्तियाँ / कलायें / अच्छी आदते / उसकी मनपसंद प्रवृतियाँ बतायें :
बालक की कुछ बुरी आदते / दोष हो तो बताये :
बालक को 'गुरुकुलम्' में रखनेका प्रयोजन बताए : *
बालक को भविष्यमें क्या बनाना चाहते है ? *
मैं अपने पुत्र / पुत्रीको स्वैच्छासे गुरुकुलम् प्रवेश लेने की प्रार्थना करता हूं । *
यह चेक बॉक्स टिक करिए
नोंध : प्रवेश पत्र के साथ विद्यार्थीकी जन्म पत्रिका अवश्य दे । यह प्रवेश पत्रिका हमें अलगसे ईमेल एड्रेस पे भेजनी रहेगी *
जी में सहमत हु
पिताश्री अभिभावककी हस्ताक्षर स्वरुप सहमति... *
इस चेक बॉक्स से माता सहमति दर्शाती हैइस चेक बॉक्स से पिता सहमति दर्शाती है
आपके सुजाव हमे लिख सकते है
संस्कृति - संवर्धन - संस्थानम् द्वारा संचालित " संस्कृति आर्य गुरुकुलम्" के निजी उपयोग के हेतु है, अभिभावक का चयन संस्था के गुरुजन की पद्धतियो द्वारा किया जाएगायह केवल संस्था की माहिती हेतु है,यह फॉर्म भरे जाने के बाद उचित समय पर अगर योग्यता है तो संस्था आपका संपर्क करेगी | सहकार के लिए आपका धन्यवाद - संस्कृति आर्य गुरुकुलम